कपलिंग क्या है? - Types of Coupling in Hindi

0

कपलिंग का उपयोग गोल घूमने वाले उपकरण के दो टुकड़ों या शाफ़्ट को जोड़ने के लिए किया जाता है। आपको Coupling के कई रूप और डिजाइन दिखाई देते है, जो विभिन्न प्रकार की यांत्रिक असेंबलियों(mechanical assemblies) में उपयोग किए जाते हैं। तो दोस्तों इस पोस्ट में हमने What is coupling in hindi, कपलिंग क्या है?, Types of coupling in hindi, कपलिंग के प्रकार, कपलिंग के कार्य, इत्यादि की जानकारी दी है।

what is coupling, what is coupling in mechanical engineering, types of coupling in mechanical engineering, what is coupling in hindi, कपलिंग क्या है, कपलिंग कितने प्रकार की होती है, types of coupling in hindi, कपलिंग के कार्य, function of coupling in hindi,

Coupling Meaning In Hindi: कपलिंग को हिंदी में युग्मन या संयोजन कहा जाता है।

(toc)

What Is Coupling in Hindi - कपलिंग क्या है?

कपलिंग यह एक प्रकार का यांत्रिक उपकरण है, जो घूमने वाले उपकरण के दो टुकड़ों को सुरक्षित जोड़ने का कार्य करता है। याने कपलिंग यह एक यांत्रिक घटक हैं जो दो शाफ्टों के सिरों को आपस में जोड़ता है ताकि एक शाफ्ट के घुमाने पर दूसरा शाफ्ट भी घूम सके।

यह Coupling कठोर या लचीला भी हो सकता है, जिससे दो शाफ्ट के बीच विभिन्न मात्रा में कोणीय, रेडियल और अक्षीय मिस-एलाइनमेंट की अनुमति मिलती है। कपलिंग यह जोड़ का मुख्य पार्ट होता है, इसलिए उसका सही चुनाव और सही इंस्टॉलेशन करना बहुत जरुरी है। कपलिंग के योग्य चुनाव और बेहतर इंस्टॉलेशन करने से रखरखाव कम हो सकता है और मरम्मत करने का समय भी कम किया जा सकता है।

कपलिंग के कार्य - Function Of Coupling In Hindi

किसी भी प्रकार के कपलिंग का मुख्य कार्य दो शाफ़्ट के किनारों को जोड़ना है, ताकि शक्ति और टार्क को आसानी से ट्रांसमिट किया जा सके। यह कपलिंग शक्ति को संचारित करने के साथ शाफ़्ट के मिस-एलाइनमेंट को एडजस्ट करता है और शाफ्ट की गति से होने वाली हानि से सुरक्षा करता है।

यह कपलिंग एक शाफ्ट से दूसरे शाफ्ट में शॉक लोड के ट्रांसमिशन को कम करने का भी कार्य करता है, यह उपकरण ड्राइविंग और संचालित भाग को जोड़ने के साथ यांत्रिक घटक में होने वाले कंपन, झटके या अन्य हानि से सुरक्षा करता है।

Types Of Coupling In Hindi - कपलिंग के प्रकार

कपलिंग को आवश्यकता के अनुसार कई अलग-अलग आकार और साइज़ में डिजाइन किया जाता हैं। उनमें से कुछ सामान्य उपयोग के लिए बहुत अच्छे होते हैं, जबकि कुछ अन्य विशिष्ट उद्देश्यों के लिए कस्टम-डिज़ाइन किए जाते हैं। कपलिंग की क्षमताओं, आकार और साइज़ अनुसार कपलिंग के विभिन्न प्रकार होते है जो हमने निचे सूचीबद्ध किया है।

  • Universal Coupling
  • Flange Coupling
  • Flexible Coupling
  • Sleeve or Muff Coupling
  • Split Muff Coupling
  • Oldham Coupling
  • Gear Coupling
  • Fluid Coupling
  • Rigid coupling
  • Jaw Coupling

इन सभी Types Of Coupling की जानकारी नीचे दी है:

1. Universal Coupling

Universal Coupling

Universal Coupling को universal joint या U-joint भी कहते है। यह rigid shafts को जोड़ता है जिनके अक्ष का झुकाव एक दूसरे से होता है। याने जब दो शाफ्ट समानांतर नहीं होते हैं पर एक दूसरे से समान 90 डिग्री पर स्थित होते हैं तब वहां Universal Coupling का उपयोग किया जाता है। हमें यूनिवर्सल कपलिंग का उपयोग वाहनों में दिखाई देता है जिसमें गियरबॉक्स के शाफ्ट को एक्सल से जोड़ा जाता है।

2. Flange Coupling

Flange Coupling

Flange Coupling में समान संख्या में होल होते हैं, यहाँ जोड़ के लिए दोनों फ्लैंज कपलिंग को एक साथ रखकर नट और बोल्ट का उपयोग करके फिट किया जाता है। इस कपलिंग का उपयोग भारी या मध्यम बल वाले जोड़ो के लिए किया जाता है, इसके साथ यह दो ट्यूबों के बीच प्रभावी सील बना सकते हैं और रिसाव या लीकेज को खत्म करने के लिए भी इसका उपयोग किया जाता है।

फ्लैंज कपलिंग के प्रमुख तीन प्रकार हैं:

  • Marine type flange coupling
  • Unprotected type flange coupling
  • Protected type flange coupling

3. Flexible Coupling

Flexible Coupling

यदि शाफ्ट को हर समय पूरी तरह से संरेखित किया जाता है और ऑपरेशन के दौरान मशीनें या उपकरण हिलती या कंपन करती हैं, तो वहा Flexible Coupling का उपयोग किया जाता है। यह कपलिंग फ्लैंज कपलिंग के समान होते है परन्तु इसमे नट-बोल्ट के साथ रबर बुश का भी उपयोग किया जाता हैं।

यह फ्लेक्सिबल कपलिंग रबर बुश के साथ लगभग हर प्रणाली में होने वाली खामियों और गतिशीलता से मशीनों में होने वाली टूट-फूट की मात्रा, झटके और कंपन को कम कर सकता है। इसका उपयोग मध्यम बल वाले कार्य के लिए किया जाता है।

4. Sleeve or Muff Coupling

Sleeve or Muff Coupling

Sleeve या Muff Coupling को बॉक्स कपलिंग के रूप में भी जाना जाता है। एक स्लीव कपलिंग में एक पाइप होता है जिसका बोर शाफ्ट के आकार के आधार पर आवश्यक Tolerance अनुसार होता है। कपलिंग के उपयोग के आधार पर keyway के माध्यम से एंट्री करने के लिए बोर में एक की-वे बनाया जाता है, और इस कपलिंग को स्थिति में लॉक करने के लिए दो थ्रेडेड होल दिए जाते हैं।

आसान भाषा में कहे तो, इसमें एक खोखला पाइप होता है जिसका भीतरी व्यास शाफ्ट के व्यास के समान होता है, इस खोखले पाइप को taper sunk key या की-वे की मदद से शाफ्ट के दो या दो से अधिक सिरों पर फिट किया जाता है। इसकी taper sunk key या keyway फिट होने वाले शाफ़्ट को स्लिप नहीं होने देता और मजबूती कायम रखता है। इस Sleeve या Muff Coupling का उपयोग मध्यम बल वाले कार्य के लिए किया जाता है।

5. Split Muff Coupling

Split Muff Coupling

इस Split Muff Coupling के प्रकार में कपलिंग के दोनों भागों को स्टड या बोल्ट का उपयोग करके एक साथ जोड़ा जाता है। यह स्प्लिट मफ़ कपलिंग कच्चे लोहे के दो अर्ध-बेलनाकार भागों से बना होता है, इस स्प्लिट मफ कपलिंग को कम्प्रेशन कपलिंग या क्लैंप कपलिंग भी कहा जाता है। यह एक कठोर प्रकार का कपलिंग है, इसमे मफ का आधा हिस्सा नीचे से और दूसरा आधा ऊपर से लगाया जाता है।

6. Oldham Coupling

Oldham Coupling

यह Oldham Coupling फ्लेक्सिबल कपलिंग का एक रूप है, जिसे उन अनुप्रयोगों के लिए डिज़ाइन किया गया है जो बैकलैश से मुक्त होना चाहिए। इस ओल्डम कपलिंग में तीन डिस्क होते हैं, इसमे से दो डिस्क एल्यूमीनियम या स्टेनलेस स्टील से बने होते है जो ड्राइव के दोनों ओर से जुड़ी होती हैं, जबकि तीसरी डिस्क कई अलग-अलग प्लास्टिक से बनी होती है, जो tongue और groove के बीच में होती है।

इसका उपयोग तभी किया जाता है, जब दो शाफ्ट संरेखण(Alignment)में नहीं होते हैं और इनके बीच की दूरी ज्यादा होती है। इस Oldham Coupling का उपयोग यांत्रिक पावर ट्रांसमिशन असेंबली में ड्राइविंग और संचालित शाफ्ट को जोड़ने के लिए किया जाता है।

7. Gear Coupling

Gear Coupling

गियर कपलिंग यह दो शाफ्ट के बीच torque संचारित करने के लिए एक यांत्रिक उपकरण है। इसमें प्रत्येक शाफ्ट के लिए एक फिक्स flexible joint होता है। इसमे दो जोड़ एक तीसरे शाफ्ट से जुड़े होते हैं, जिसे स्पिंडल कहा जाता है। इस Gear Coupling का उपयोग अधिक बल वाले कार्य के लिए किया जाता है। यह Gear Coupling फ्लैंज कपलिंग का एक सुधारित रूप है, इसके प्रत्येक जोड़ में 1:1 गियर अनुपात आंतरिक और बाहरी गियर की जोड़ी होती है।

8. Fluid Coupling

Fluid Coupling

Fluid Coupling को हाइड्रोलिक कपलिंग भी कहा जाता है, जिसका उपयोग rotating mechanical power को संचारित करने के लिए किया जाता है। इसका उपयोग मैकेनिकल क्लच के विकल्प के रूप में भी किया जाता है जैसे की ऑटोमोबाइल ट्रांसमिशन या बिजली जनरेटर शाफ्ट, इसके साथ इसका उपयोग समुद्री और औद्योगिक मशीन ड्राइव में भी व्यापक रूप से होता है।

फ्लूइड कपलिंग एक नियंत्रित सॉफ्ट स्टार्ट-अप प्रदान करते हैं, जिससे शॉक लोड को रोकने और आसपास के उपकरणों की सुरक्षा करने में मदद मिलती है। ये कपलिंग परिवर्तनशील गति की अनुमति देते हैं और आसान torque नियंत्रण प्रदान करते हैं।

9. Rigid coupling

Rigid coupling

यह एक प्रकार का कठोर कपलिंग है, जो शाफ्ट के बीच बहुत कम मूवमेंट की अनुमति देता है, परन्तु सटीक संरेखण के लिए जादातर इस Rigid coupling का उपयोग किया जाता है। एक बार जब दो उपकरण शाफ्ट को जोड़ने के लिए एक कठोर युग्मन याने rigid coupling का उपयोग किया जाता है, तो वे एकल शाफ्ट के रूप में कार्य करते हैं।

Rigid coupling का उपयोग vertical अनुप्रयोगों में किया जाता है, जैसे कि एक वर्टीकल पंप। इसके साथ इस कपलिंग का उपयोग बड़े टर्बाइन जैसे उच्च टोक़ अनुप्रयोगों में टॉर्क संचारित करने के लिए भी किया जाता है। टर्बाइन में लचीले कपलिंग का उपयोग नहीं कर सकते, इसलिए अधिक से अधिक टर्बाइन के टर्बाइन सिलेंडरों के बीच इस कठोर कपलिंग का उपयोग किया जाता हैं।

10. Jaw Coupling

Jaw Coupling

Jaw Coupling तीन भागों से बना होता है, इसमे दो धातु के हब और एक elastomer इंसर्ट किया जाता है जिसे एक एलिमेंट या फ्लेक्स मटेरियल कहा जाता है जो Hytral, NBR और Polyrathane तत्व से बना होता है, इस इलास्टोमेर को आमतौर पर "spider" भी कहा जाता है।

यह जॉ कपलिंग एक प्रकार का मेकेनिकल कपलिंग है जो सामान्य उद्देश्य विद्युत संचरण कपलिंग का भी कार्य करता है, और इस Jaw Coupling का उपयोग गति नियंत्रण अनुप्रयोगों में भी किया जाता है। यह उपकरण सिस्टम कंपन को कम करते हुए और गलत अलाइनमेंट को एडजस्ट करते हुए टॉर्क को ट्रांसमिट करने के लिए डिज़ाइन किया गया है, जो अन्य घटकों को नुकसान से बचाता है।

See Also:
1. Bolt क्या है?, बोल्ट कितने प्रकार के होते हैं?
2. Bearing क्या है? और Bearing के सभी प्रकार
3. Thread के सभी प्रकार की जानकारी

FAQs For Mechanical Coupling In Hindi

कपलिंग का कार्य क्या है?

कपलिंग का कार्य दो शाफ़्ट के किनारों को सुरक्षित जोड़ना है, यह शक्ति को संचारित करने के कार्य के साथ शाफ़्ट के मिस-एलाइनमेंट को एडजस्ट करता है और शाफ्ट की गति से होने वाले कंपन, झटके या अन्य हानि से सुरक्षा करता है।

कपलिंग के मुख्य प्रकार क्या हैं?

कपलिंग के मुख्य प्रकार: Universal Coupling, Flange Coupling, Flexible Coupling, Muff/Sleeve Coupling, Split Muff Coupling, Oldham Coupling, Gear Coupling, Fluid Coupling, Rigid coupling, Jaw Coupling, इत्यादी।

कपलिंग को हिंदी में क्या कहते है?

कपलिंग को हिंदी में युग्मन या संयोजन कहते है, यह एक प्रकार का मैकेनिकल उपकरण है जो दो शाफ़्ट के किनारों को सुरक्षित जोड़ने का काम करता है।

तो दोस्तों आशा करते है की आपको इस Mechanical Coupling की जानकारी अच्छी लगी होंगी, इस पोस्ट में हमने लगभग सभी पॉइंट्स को कवर किया है जैसे की What is coupling in hindi, कपलिंग क्या है?, Types of coupling in hindi, कपलिंग के प्रकार, कपलिंग के कार्य, Function of coupling, इत्यादि। यदि आपको इससे संबंधित कुछ प्रश्न हो तो हमें कृपया कॉमेंट्स करके पूछ सकते है।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
Post a Comment (0)