Difference between AC and DC current | AC और DC करंट क्या होता है?

आज हम इस पोस्ट में AC और DC current के बारे में पूरी जानकारी जानेंगे, जैसे की, what is AC and DC current, Difference between AC and DC current, full form, definition और AC and DC current examples के बारे में हिंदी में जानेंगे। 

विद्युत/Electricity हमारे दैनंदिन जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, बिजली से हम हमारे घर के उपकरण चलाते है, इंजीनियरिंग फिल्ड में छोटे बड़े मशीन्स चलाते है, और कई सारे कार्य के लिए हम विद्युत/Electricity का उपयोग करते है।

What is DC current - Difference between AC and DC current - definition - hindi

Types of Current | Current के प्रकार | definition

Current दो प्रकार के होते है - 1) Alternating Current (प्रत्यावर्ती धारा) 2) Direct Current (दिष्ट धारा)

Alternating Current/AC current definition :- एक प्रत्यावर्ती धारा एक विद्युत प्रवाह है जो प्रवाह के रूप में लगातार दिशा बदलती है। जिसे Alternating Current याने प्रत्यावर्ती धारा कहते है।

Direct Current/DC current definition :- एक प्रत्यक्ष धारा एक विद्युत प्रवाह है जो हमेशा एक ही दिशा में बहती है। जिसे Direct Current याने दिष्ट धारा कहते है।


Difference between AC and DC current in Hindi

दोस्तों हम यहाँ एक एक करके एसी और डीसी करंट के बीच के अंतर के बारेमे उदाहरण के साथ जानेंगे, जिससे आप को बड़ी आसानी से दोनों करंट का महत्व और कार्य के बारे में समझ में आये।

What is DC current - DC करंट क्या होता है?

Direct current - DC का fullform डायरेक्ट करंट होता है, और हिंदी में इसे "दिष्ट धारा" कहते है। इस प्रकार के करंट की प्रक्रिया दिशा/Direction और मान/Value नहीं बदलता इसलिए इसे डायरेक्ट करंट कहा जाता हैं। DC current का उत्पादन केवल 650 वोल्ट तक ही किया जा सकता है।

Direct current examples - DC current examples

दोस्तों आजकल अल्टरनेटिंग करंट का उपयोग सबसे ज्यादा किया जाता है। मगर कुछ जगह पर DC current की आवश्यकता होती है, जैसे की हम मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते है उसकी बैटरी में DC current होता है। 

कई जगह पर वेल्डिंग मशीन में, टेलीविजन, रेडियो, कंप्यूटर, मोबाइल, इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरण, मल्टीमीटर टेस्टर, बैटरी और सेल इत्यादी में भी DC करंट का प्रयोग होता है।

किसी भी प्रकार की बैटरी को चार्ज करने के लिए सिर्फ dc supply का इस्तेमाल किया जा सकता है। क्योंकि एसी करंट को स्टोर नहीं कर सकते और डीसी करंट को बैटरियों में स्टोर किया जा सकता है।

What is AC current - AC करंट क्या होता है?

Alternating current - AC का fullform अल्टरनेटिंग करंट है, और हिंदी में इसे "प्रत्यावर्ती धारा" कहते है। इस प्रकार के करंट की प्रक्रिया में, करंट एक निश्चित समय के बाद ही अपना Direction और Value बदलता है, इसलिए इस प्रकार के करंट को Alternating current कहते हैं।

अल्टरनेटिंग करंट का उत्पादन अधिक से अधिक करंट volt पैदा की जा सकती है, इससे लगभग 33000 Volt तक बिजली पैदा की जा सकती है।

Alternating Current ज्यादा महंगी नहीं है, क्योंकि एसी करंट को आसानी से generate किया जा सकता है। AC current का सबसे बड़ा फायदा यह है कि, इसे ट्रांसफार्मर की मदद से कम या ज्यादा किया जा सकता है। इसलिए अल्टरनेटिंग करंट को ज्यादा दूरी तक आसानी से भेजा जा सकता है। 

इस करंट को जहां पर भी भेजना है वहां पर भेज सकते है और तो और वोल्टेज को आवश्यकतानुसार कम या ज्यादा कर सकते है।


Alternating current examples - AC current examples

Alternating Current से इंजीनियरिंग फिल्ड में ड्रिल मशीन, मशीनरी और अन्य उपकरण चलते है, और हमारे किचन में TV, mixer- grinder, fridge, juicer, microwave oven, Induction cooktop, water pump, cooler और fan, led, LCD etc. में Ac current का उपयोग होता है।

ये भी पढ़े:- what is plc - full information - What is PLC Programming in Hindi


तो दोस्तों उम्मीद करते है की, इस पोस्ट से आपको " What is AC and DC current, Difference between AC and DC current, full form, definition और AC and DC current examples " के बारे में काफी कुछ जानकारी मिली होंगी, आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो हमें comments करके बताये और अपने दोस्तों में शेअर करे।

No comments:

Post a Comment