Types of Co-ordinates and Coordinate Methods in CNC, VMC Programming - Hindi Engineer

Saturday, December 30, 2017

Types of Co-ordinates and Coordinate Methods in CNC, VMC Programming

दोस्तों हमने पिछले पोस्ट में G code और M code बारे में जाना था। तो दोस्तों आज हम बात करेंगे Types of Co-ordinates and Coordinate Methods in CNC, VMC Programming के बारे में। और CNC या  VMC पर प्रोग्राम बनाते समय Co-ordinates निकालने के तरीके के बारेमे।

Co-ordinates जॉब और ड्रॉइंग के अनुसार दो प्रकार से निकले जाते है। एक है Straight Line Co-ordinate Method और दूसरा Radius Co-ordinate Method तो आइये चलते है इसे हम विस्तारित रूप से जानते है।


Types of Co-ordinates and Methods in hindi - C.N.C, V.M.C Programming-hindi eingineer, cnc, vmv programming, cnc programming training, g codes and m codes, cnc tutorial,  vmc machine detail, vmc machine operation


A) Straight Line Co-ordinate Method :-

इस मेथड में दो प्रकार है जो ऑपरेटर या प्रोग्रामर अपने अपने तरीके से इस्तेमाल कर सकते है।
1) Absolute ( ABS ) Method 2) Incremental ( INC ) Method

1) Absolute ( ABS ) Method :-

इस मेथड में जॉब या ड्रॉइंग का X00 , Y00 फ़िक्स करके वहासे मिलने वाले सभी Dimensions निकाले जाते है। और इसका G-code है G90 जो प्रोग्राम बनाते समय प्रोग्राम में देना पड़ता है।

2) Incremental ( INC ) Method :-

इस मेथड में जॉब या ड्रॉइंग का X00 , Y00 हर एक पॉइंट पर बदलता रहता है। और इसके Dimensions आने वाले सभी पॉइंट से कंट्रोल किये जाते है। और इसका G-code है G91 जो प्रोग्राम बनाते समय प्रोग्राम में देना पड़ता है।

B) Radius Co-ordinate Method :- 

जब जॉब या ड्रॉइंग में रेडियस या आर्क आता है तब इनके Co-ordinates को Radius Co-ordinate Method से निकाला जाता है। और इसमें दो प्रकारो से कोऑर्डिनेट्स निकाले जा सकते है - 1) ARC Method 2) IJK Method 

1) ARC Method :-

ARC मेथड में रेडिअस के सभी Dimensions को ABS मेथड में दिए जाते है। इसमें रेडिअस का स्टार्ट पॉइंट और एन्ड पॉइंट के Co-ordinates को ध्यान में लिया जाता है।

2) IJK Method :- 

इस मेथड में कोऑर्डिनेट्स निकालते समय रेडिअस के सेंटर को ध्यान में रख कर रेडिअस का स्टार्ट पॉइंट दिया जाता है और यहिसे IJK के Co-ordinates दिए जाते है।
a) " I " याने  " X " Co-ordinates . 
b) " J " याने  " Y " Co-ordinates . 
c) " K " याने  " Z " Co-ordinates .

तो दोस्तों ये थी Co-ordinates Methods की बेसिक जानकारी अगर आपको इससे जुड़ीं और कुछ जानकारी चाहिए तो हमें कॉमेंट्स करके सुझाव दे हम आपकी ज़रुर सहायता करेंगे।


ये भी पढ़े :-

V.M.C Canned Cycle Program Explain and Formula Explain in Hindi  


1 comment: