वेल्डिंग क्या है? वेल्डिंग कितने प्रकार के होते हैं?

दोस्तों आज के समय में कोई भी इंडस्ट्री, कंपनी, फेब्रिकेशन शॉप या कोई भी मैन्युफैक्चरिंग उद्योग वेल्डिंग के बिना अधुरा है। चाहे इमारत का काम हो, हवाई जहाज का काम या गाडियों का काम हो सभी में वेल्डिंग की जरूरत होती है, और इसमे अलग अलग जगह जगह पर अलग अलग वेल्डिंग के प्रकार का उपयोग होता है। तो इस पोस्ट में हम What is welding in hindi और Types of welding in hindi याने वेल्डिंग क्या है? वेल्डिंग कितने प्रकार के होते हैं? इन सब के बारे में जानेंगे।

types of welding, वेल्डिंग कितने प्रकार के होते हैं, welding kitne prakar ki hoti hai, welding kitne prakar ke hote hai, what is welding in hindi, types of welding in hindi, वेल्डिंग क्या है, वेल्डिंग की जानकारी,

What is Welding in Hindi - वेल्डिंग क्या है?

वेल्डिंग उसे कहते, जहां दो या दो से अधिक धातुओं को आपस में जोडे जाने की प्रक्रिया को वेल्डिंग कहा जाता है, जिसमे दो धातुओं को अधिक तापमान पर गर्म करके या इसमे तीसरे धातु का उपयोग करके जोड़ने की प्रक्रिया को झलाई या वेल्डिंग कहते हैं। कभी कभी धातु को जोड़ने के लिए अधिक तापमान के साथ साथ दबाव का भी उपयोग किया जाता है।

वेल्डिंग यह निर्माण की एक प्रक्रिया है जिसका उपयोग चीजों को वेल्ड करने के लिए किया जाता है। इसमे दो या दो से अधिक धातु को गर्मी और दबाव के माध्यम से एक साथ जोड़ दिया जाता है। इस प्रक्रिया में धातुओं के टुकड़ों को अधिक तापमान पर गर्म करके पिघला लिया जाता है और उसमें एक फिलर धातु को पिघलाकर मिलाया जाता है, यह पिघली हुई मेटल और फिलर मेटल  ठण्डी होकर एक मजबूत जोड़ बन जाता है। Welding आमतौर पर धातुओं और थर्माप्लास्टिक पर उपयोग किया जाता है।

वेल्डिंग की परिभाषा - Welding definition in hindi

जहां दो या दो से अधिक धातुओं को एक निश्चित तापमान पर गर्म करके किसी दाब या बिना दाब के जोड़ने की प्रक्रिया को झलाई या वेल्डिंग कहते है। आसान भाषा में समझाए तो, दो या दो से अधिक समान या असमान धातुओं को आपस में जोडे जाने की प्रक्रिया को welding कहते है।

Types of welding in Hindi - वेल्डिंग के प्रकार

आपको हर जगह या चीजों पर अलग अलग वेल्डिंग दिखाई देती है, यह वेल्डिंग विभिन्न वेल्डिंग के प्रकार से किया जाता है, जिसकी वेल्ड करने की प्रक्रिया भी अलग अलग होती है। इससे हमें पता चलता है की, वेल्डिंग प्रक्रिया के आधार पर ही वेल्डिंग के विभिन्न प्रकार होते है।
वेल्डिंग प्रक्रिया के आधार पर वेल्डिंग के प्रकार हमने निचे दिए है:

Types of welding - Welding kitne prakar ki hoti hai

  1. Arc Welding (आर्क वेल्डिंग, चाप झलाई)
  2. Gas welding (गैस वेल्डिंग, गैस झलाई)
  3. Laser beam welding (लेजर बीम वेल्डिंग, लेजर किरण झलाई)
  4. Electron beam welding (इलेक्ट्रॉन बीम वेल्डिंग, इलेक्ट्रॉन पुंज झलाई)
  5. Ultrasound welding (अल्ट्रासाउंड वेल्डिंग, पराश्रव्य झलाई)
  6. Friction welding (घर्षण वेल्डिंग, फ्रिक्शन झलाई )
  7. Resistance welding (प्रतिरोध वेल्डिंग, रेजिस्टैंस झलाई )
  8. Spot welding (स्पॉट वेल्डिंग, स्पॉट झलाई)
  9. Seam welding (सीम वेल्डिंग, सीम झलाई)
  10. Flash welding (फ्लैश वेल्डिंग, चमक झलाई)
  11. Offset welding (ऑफसेट वेल्डिंग, अपसेट झलाई)
  12. Projection welding (प्रोजेक्शन वेल्डिंग, प्रक्षेपण झलाई )


वेल्डिंग के बारे में आपके कुछ सवाल जवाब:

वेल्डिंग का क्या अर्थ है?
वेल्डिंग को हिंदी में 'झलाई' कहते है, इसकी परिभाषा की जाये तो, दो या दो से अधिक धातु को गर्मी या दबाव के माध्यम से एक साथ जोड़ दिये जाने की प्रक्रिया को वेल्डिंग या झलाई कहते है। Welding से समान या असमान धातु या थर्मोप्लास्टिक जोड़े जाते हैं।

वेल्डिंग कितने प्रकार के होते है?
वेल्डिंग प्रक्रिया के आधार पर वेल्डिंग के प्रकार होते है, जो है: गैस वेल्डिंग, आर्क वेल्डिंग, लेजर बीम वेल्डिंग, इलेक्ट्रॉन बीम वेल्डिंग, अल्ट्रासाउंड वेल्डिंग, फ्रिक्शन वेल्डिंग, रेजिस्टैंस वेल्डिंग, स्पॉट वेल्डिंग, सीम वेल्डिंग, फ्लैश वेल्डिंग, ऑफसेट वेल्डिंग, प्रोजेक्शन वेल्डिंग, इत्यादी।

वेल्डिंग इलेक्ट्रोड क्या है?
दो धातु को जोड़ने की प्रक्रिया में जिस तीसरे धातु का उपयोग फिलर मेटल के रूप में किया जाता है, उस फिलर मेटल रॉड को वेल्डिंग इलेक्ट्रोड कहा जाता है। इस इलेक्ट्रोड को वेल्डिंग की प्रक्रिया और जॉब की सामग्री के अनुसार चुना जाता है। प्रक्रिया के आधार पर वेल्डिंग इलेक्ट्रोड के दो प्रकार हैं: Consumable Electrodes और  Non-Consumable Electrodes.

गैस वेल्डिंग के सिलेंडर में कौन कौन सी गैस होती है?
विभिन्न प्रकार के वेल्डिंग में विभिन्न प्रकार के गैस का उपयोग किया जाता है, और उनके हर एक सिलेंडर को कलर कोड होता है, जिससे हमें किस सिलेंडर में कोनसी गैस है यह पता चलता है: काले रंग के सिलेंडर में नाइट्रोजन गैस होती है, सफेद रंग के सिलेंडर में ऑक्सीजन गैस होती है, और ग्रे कलर के सिलेंडर में कार्बन डाइऑक्साइड होती है।

वेल्डिंग पोजीशन के कितने प्रकार है?
Welding position के मुख्य चार प्रकार होते है: Flat welding position, Vertical welding position, Horizontal welding position, Overhead welding position.

वेल्डिंग धुएं से खुद को कैसे बचाएं?
वेल्डिंग धुएं से आप को बहुत सी तकलीफे हो सकती है, इस लिए वेल्डिंग करते समय हैण्ड ग्लोज, वेल्डिंग एप्रन, वेल्डिंग ग्लास, मास्क इत्यादी चीजों का उपयोग करे, और जहा वेल्डिंग की जा रही है वहा ज़रूरत के अनुसार Exhaust Fan का उपयोग करे।

तो दोस्तों यह थी What is welding in hindi, Types of welding in hindi याने वेल्डिंग क्या है? और वेल्डिंग कितने प्रकार के होते हैं? इत्यादी वेल्डिंग की जानकारी। आपको यह पोस्ट अच्छी लगी तो हमें comments करके बताये और यह आर्टिकल अपने दोस्तों में शेअर करे।

No comments