All Types of Pattern Allowances in Casting Hindi

हम इस पोस्ट में Types of Pattern Allowances in Hindi के बारे में जानेंगे, कुछ Allowances जो कास्टिंग के Dimensions और पैटर्न के आकार के लिए मुख्य भूमिका निभाते हैं। इन Allowances को पैटर्न कास्टिंग के लिए डिज़ाइन के समय बहुत ध्यान दिया जाता है। तो दोस्तों Casting Pattern में मुख्य भूमिका वाले सभी Allowances के बारे आज जानेंगे।

pattern allowances, allowance in casting, pattern allowances in hindi, types of pattern in hindi, shrinkage allowance in casting, types of pattern allowances, allowances in casting, shrinkage allowance, types of allowances in casting, Types of Pattern Allowances in Casting Hindi,

Types of Pattern Allowances in Hindi - Pattern Allowances के प्रकार

  1. Shrinkage allowance in casting
  2. Draft or taper allowance
  3. Distortion allowance
  4. Finishing or machining allowance
  5. Shaking or rapping allowance

इन सभी Pattern Allowances के प्रकार का विश्लेषण निचे दिया है:

1. Shrinkage allowance in casting:

Room temp से धातु के जमने के बाद पैटर्न के dimensions बढ़ जाते हैं। इसलिए पैटर्न का आकार तैयार आकार के तुलना में बड़ा है। इसी धातु के होने वाले बदलाव के कारण इसे " Shrinkage allowance " के रूप में जाना जाता है।

Shrinkage allowance देते समय "Dimensions of casting, Design, and intricacy of casting, Molding materials used, Method of molding used, Pouring temp of the molten metal" इन बातो का ध्यान दिया जाता है।

2. Draft or taper allowance:

पैटर्न ड्राफ्ट पैटर्न जॉब के सतहों पर रखा गया टेपर होता है, जो उस दिशा के समानांतर होता है जिसमें पैटर्न को मोल्ड से वापस ले लिया जाता है (जो कि पार्टिंग प्लेन के लंबवत होता है), मोल्ड कैविटी को नुकसान पहुंचाए बिना पैटर्न को निकाला जा सकता है। इसी लिए Draft or taper allowance दिया जाता है।

Draft or taper allowance देते समय "Method of molding, the sand mixture used, design, economic restrictions imposed on the casting, the intricacy of the pattern" इन बातो का ध्यान दिया जाता है।

3. Distortion allowance:

अनियमित आकार के उत्पादों की molding करते समय इस allowance को ध्यान में रखा जाता है। जब इन जॉब को ठंडा किया जाता है तो ये धातु के सिकुड़ने के कारण distorted हो जाते हैं।

4. Finishing or machining allowance:

Machining allowance या इसे finish allowance भी कहते है, इस allowance में कास्टिंग की rough size कितनी होनी चाहिए या कितनी रखनी चाहिए ताकि लगभग जॉब के सभी बाजु से casting finished होना चाहिए इस तरह के allowance को Finishing or machining allowance कहते है।

इस machining allowance को जॉब के सभी सतहों में जोड़ा जाता है जिन्हें मशीनीकृत किया जाना है। machine molding की तुलना में hand molding के लिए machining allowance जादा होता है।

Finishing or machining allowance देते समय "Machining operation, Characteristics of metal, Methods of castings, Size, shapes and volumes of castings, Degree of finish required in castings, a configuration of the casting" इन बातो का ध्यान दिया जाता है।

5. Shaking or rapping allowance:

मोल्ड कैविटी से पैटर्न को लेने के लिए इसे मोल्ड कैविटी से अलग करने के लिए थोड़ा रैप किया जाता है। इसी कारण cavity की size increased होती है। इस लिए Shaking or rapping allowance दिया जाता है।

ये भी पढ़े:
1. Types of casting process और Dia Casting in Hindi
2. Geometric Dimensioning Tolerancing symbol list chart

तो दोस्तों आपको Different Types of Pattern Allowances in Casting - Pattern allowances in hindi के बारे में काफ़ी कुछ जानकारी मिली होंगी, आपको ये आर्टिकल अच्छा लगा तो हमें comments कर के बताये और अपने दोस्तों में शेअर कीजिये।

1 comment:

  1. बहुत ही अच्छी जानकारी।

    ReplyDelete